Author Press Books
 
 
 
 
 
 
 
 

Book Details


Ek Kadam Roshni Ki Or



Authored By: Neelam Saxena Chandra


Publisher:  Authorspress


ISBN-13: 9789388332798


Year of Publication: 2019


Pages: 100

                                       Binding: Paperback(PB)


Category:  Poetry, Fiction and Short Stories


Price in Rs. 206.50

                             Price in (USA) $. 16.52

                            
Inclusive of All Taxes (After 30% Discount on the Printed Price)

Book Description


Book Contents


 
 

About the Book


 

ज़िन्दगी ग़म और ख़ुशी – दोनों के साथ आती है| कभी ग़म का पलड़ा भारी होता है, तो कभी ख़ुशी का| जब ग़म ज़िन्दगी की शामों को बदरंग कर दे, तब ज़रूरत होतीहै अपने ज़हन में चमकते सूरज की ओर ध्यान देने की| एक क़दम रौशनी की ओर बढ़ाते ही, लाखों सुनहरे सूरज रूह में अपने आप खिल उठते हैं|

 

इन्हीं एहसासों के साथ, लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड होल्डर, नीलम सक्सेना चंद्रा अपनी पचास नज़्मों को,“एक क़दम रौशनी की ओर” नामक अपने काव्य संग्रह में पेश कर रही हैं|

 


About the Author


 

नीलम सक्सेना चंद्रा,पुणे मेट्रो में जनरल मैनेजर (विद्युत्) के पद पर कार्यरतहैं| कविताएँ एवं कहानियाँलिखना आपका शौक है| आपकी आठ सौ से अधिक रचनाएँविभिन्न राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं  में प्रकाशित हो चुकी हैं| आपके चार उपन्यास, एक उपन्यासिका,पाँच कहानी संग्रह,तीस काव्य संग्रह व बारह बच्चों की पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं| आपको विभिन्न पुरस्कारों से सुशोभित किया गया है; जैसे अमेरिकन एम्बेसी द्वारा आयोजित काव्य प्रतियोगिता में गुलज़ार जी द्वारा पुरस्कार, रबिन्द्रनाथ टैगोर अंतर्राष्ट्रीय काव्य पुरस्कार २०१४, रेल मंत्रालय द्वारा प्रेमचंद पुरस्कार, चिल्ड्रेन ट्रस्ट द्वारा पुरस्कार, पोएट्री सोसाइटी ऑफ़ इंडिया द्वारा काव्य प्रतियोगिता २०१७ में द्वितीय पुरस्कार, ह्यूमैनिटी अन्तराष्ट्रीय वीमेन एचीवर अवार्ड २०१८,सोनिंदर सम्मान,भारत निर्माण लिटरेरी अवार्डइत्यादि| इनके द्वारा लिखे गीत 'मेरे साजन सुन सुन' को रेडियो सिटी द्वारा फ्रीडम पुरस्कार मिल चुका है| 
आपके कार्य को सराहते हुए एक वर्ष में सबसे अधिक पुस्तक प्रकाशन हेतु लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड द्वारा इन्हें मान्यता मिली है| वैसे ही लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड, मिरेकल वर्ल्ड रिकार्ड तथा इंडिया बुक ऑफ़ रिकॉर्ड द्वारा आपको व आपकी पुत्री सिमरन को प्रथम माँ-पुत्री द्वारा प्रकाशित पुस्तक का ख़िताब दिया गया है| नीलम को फ़ोर्ब्स मैगज़ीन द्वारा २०१४ के देश के अठहत्तर प्रख्यात लेखकों में नामित किया गया है|